-- विज्ञापन --
होम खेल बैडमिंटन प्रियांशु राजावत डच जूनियर बैडमिंटन के क्यूएफ में हारे

प्रियांशु राजावत डच जूनियर बैडमिंटन के क्यूएफ में हारे

योनेक्स डच जूनियर बैडमिंटन में प्रियांशु राजावत। छवि स्रोत: स्क्रॉल
-- विज्ञापन --

भारतीय शटलर प्रियांशु राजावती हारलेम में सोमवार को पुरुष एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में हार गई। उनकी हार के साथ, इसने डच ओपन जूनियर इंटरनेशनल टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती का अंत कर दिया।

-- विज्ञापन --

राजावत कनाडा के चौथी वरीयता प्राप्त ब्रायन यांग के खिलाफ खेले और स्पष्ट स्कोर से 21-13, 22-20 से हार गए।

राजावत बनाम यांग: जैसा हुआ था

पहले गेम के शुरुआती चरण में राजावत 6-5 से आगे चल रहे थे लेकिन जल्द ही यांग ने पांच अंक हासिल कर स्कोर को 10-6 तक पहुंचा दिया। राजावत खेल हारते दिख रहे थे जबकि यांग खेल को अपने प्रतिद्वंद्वी की पहुंच से बाहर रखते हुए स्कोर करते रहे।

-- विज्ञापन --

दूसरे गेम में दोनों खिलाड़ियों ने एक दूसरे को कड़ी टक्कर देने की कोशिश की। राजावत ने अच्छी शुरुआत की और 8-5 की बढ़त बना ली। पहले ब्रेक तक राजावत अपने प्रतिद्वंद्वी से दो अंक ऊपर थे।

 

दूसरे गेम के अंत तक, भारतीय ने स्कोर को 20-19 तक पहुंचा दिया और लगभग जीत लिया।
लेकिन कनाडाई ने अंतिम दो अंक छीन लिए और वह मैच जीत लिया जिसने टूर्नामेंट में भारत की भागीदारी को समाप्त कर दिया।

इससे पहले प्रियांशु ने फ्रांस के क्रिस्टो पोपोव को 22-20,15-21,21-15 से हराने में कामयाबी हासिल की थी, जबकि उनकी टीम प्री-क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंच सकी थी।

इसके अलावा पढ़ें: भारत के डबल्स बैडमिंटन कोच ने दिया इस्तीफा

भारत के लिए अन्य परिणाम

मैसनम मीराबा और गायत्री गोपीचंद राउंड 16 में हार गए थे।

मणिपुर की खिलाड़ी मेइस्नम मीराबा तीसरी वरीयता प्राप्त क्रिस्टीना एडिनंता से 18-21, 10-21 से हार गईं। बालिका युगल में गायत्री गोपीचंद आठवीं वरीयता प्राप्त बेन्यापा एमसार्ड से 15-21,13-21 से हार गईं। आंध्र प्रदेश के साई चरण कोया को चीन के ली युंजे ने 15-21, 16-21 से हराया।

लड़कों के युगल में, तेलंगाना की नवनीत बोका और विष्णु वर्धन गौड़ पंजाला की जोड़ी ने एक गेम की बढ़त हासिल की, लेकिन अन्य दो जोड़ी इंडोनेशियाई जोड़ी एम. लकी एंड्रेस अप्रियांदा और योगी पामंगकास से हार गईं। स्कोर 21-17, 19-21, 10-21 थे।

भारतीय खेलों के नवीनतम अपडेट के लिए, क्रीडऑन के साथ बने रहें।

 

-- विज्ञापन --
एक कॉलेज की छात्रा, नंदिनी एक भावुक खेल प्रेमी है। वह खेल देखना पसंद करती है और उत्सुकता से अपनी कक्षाओं के बीच मैचों के वर्तमान स्कोर की जाँच करती रहती है। इसके अलावा, वह बहुत कुछ लिखना पसंद करती है। और इसलिए, क्रीडन के साथ, नंदिनी खुशी-खुशी अपने दोनों हितों को अच्छी तरह से जोड़ रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

उत्तर छोड़ दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहां दर्ज करें

मोबाइल संस्करण से बाहर निकलें